पूजा को प्रेग्नेंट होने में हेल्प किया

हेल्लो फ्रेंड्स🙏 राम राम कैसे हो
मैं राहुल आपका दोस्त एक बार फिर एक स्टोरी लेकर आया हूँ मेरी 2011 वाली स्टोरी जिसमे मैंने आरती से सेक्स करके उसको बचाया था उस स्टोरी का बाकी हिस्सा आज लिख रहा हूँ ।
फ्रेंड्स 2011 के उस इंसिडेंट के बाद आरती का कुछ पता नही था पूजा ने भी स्कूल छोड़ दिया था, मैं भी 12th के बाद पलवल शिफ्ट हो गया था, एक दिन मुझे सोहना आना हुआ ये बात 2017 की है, मैं बस से सोहना पंहुचा और चिल्डपोइंट एक रेस्टोरेंट है वहाँ पर उतरा और थोड़ा नाश्ता किया और निकलने लगा तभी मेरी नजर एक लड़की पर पड़ी मुझे वो जानी पहचानी सी लगी 6 साल का गैप था इसलिए थोड़ा टाइम लगा पहचानने में लेकिन ट्राय के लिए मैंने उससे पूछा
मैं – are you pooja ?
वो – yes, I am pooja. Who are you?
मैं – अरे यार भूल गई? मैं राहुल हूँ तुमहारा क्लास फ्रेंड ।
पूजा – कौन राहुल ?
मैं – अरे यार, 2011 मे याद है हम ट्रिप पर गए थे स्कूल की तरफ से वहाँ मैं तुमहारी बहन आरती से *** किया ।
पूजा – अच्छा अच्छा । अब याद आया । तुमको कैसे भूल सकती हूँ राहुल तुम नही होते तो आज मैं यहाँ नही होती, शायद उसी दिन हम दोनों बहन मर गए होते ।
मैं – ऐसा नही बोलते पूजा । और बताओ आरती कैसी है तुम तो 2011 में पढाई आधी छोड़ कहा चली गई थी?
पूजा – राहुल, तुमने उस दिन हमारी मदद की थी उस दिन हम तो आरती बच गई थी लेकिन उस दिन शायद तुमने अपना वीर्य आरती की vagina में ही छोड़ दिया था
मैं – हाँ, कण्ट्रोल नही कर पाया था मेरा फर्स्ट टाइम था न
पूजा – हाँ, कुछ दिन तो हमने नोटिस नही किया लेकिन एक दिन मैंने देखा की आरती का पेट धीरे धीरे बड़ा हो रहा था मैंने और उसने सोचा की शायद ज्यादा खाना खाने की वजह से पेट निकल रहा है, फिर कुछ दिन बाद आरती का पेट जब हद से ज्यादा निकलने लगा तो हमे फ़िक्र हो गई माँ ने भी नोटिस कर लिया था ये उन्होंने पूछा भी तो हमने ये कह के ताल दिया की चर्बी बन गई है पेट पर
हम दोनों टेंशन में थे पता नही चल रहा था क्या करे फिर मेरे दिमांग में एक रास्ता आया ।
मैं – क्या रास्ता आया ?
पूजा – मैंने आरती से पूछा की तेरा कोई बॉयफ्रेंड है उसने कहा नही, फिर मैंने बोला की ठीक है जल्दी से बना ले और एक रात उसके साथ सो जा
मैं – ओह my god, फिर क्या हुआ ।
पूजा – आरती ने पापा के फ्रेंड के बेटे सुनील से एक रात सेक्स किया और प्रूफ के लिए एक रिकॉर्डिंग भी बना लिया
जब बात हद से ज्यादा बढ़ी तो पापा से हमने बोला की सुनील ने जबर्दस्ती आरती को सेक्स किया फिर पापा और उनके फ्रेंड ने आव देखा न ताव आरती की शादी करदी सुनील से
मैं – चलो आरती का मेटर सॉल्व हो गया ।
तुम अपनी बताओ ।
पूजा – मेरा, अब मैं भी शादी शुदा हूँ मेरी भी शादी 2015 में हो गई थी पंकज श्रीवास्तव से ।

तभी एक छोटा लड़का तोतली आवाज में माँ माँ बोलते हुए पूजा के पास आया ।
मैंने बोला ये तुमहारा बेटा है ? काफी बड़ा हो गया जल्दी बड़ा हो गया है कितने साल का है ?
पूजा – ओह राहुल तुम बुधु के बुधु ही हो ये 6 साल का है लेकिन मेरा बेटा नही है ये तुमहारा और आरती का बेटा है मुझे तो प्यार से माँ बोलता है क्योंकि मेरी कोई ओलाड नही है इसलिए पूरा दिन मैं ही रखती हूँ ।
मैं – ये मेरा बेटा है 🤔 तभी कहु की तुम और आरती तो एक दम झक्कास हो सॉरी मतलब गौरी हो ये सावला
मैंने फिर उस बेबी को अपने गोद में बिठाया और मन में सोच रहा था कि शादी किये बगैर(शादी मेरी अब 13 oct 2018को हुआ) मैं बाप बन गया हूँ उस बेबी को किस😘
किया और अपनी जेब से 500₹ रुपया निकाल कर दिया
पूजा – राहुल, ये क्या कर रहे हो बच्चा है इतने रुपया का क्या करेगा ?
मैं – पूजा, ये मेरा बेटा है पहली बार देखने को मिला है मुँह दिखाई ही समझ लो मना मत करो आखिर इसमें मेरा ही तो खून है ।
पूजा – चलो ठीक है ।
मैं – अपनी बताओ तुम बेबी कब कर रही हो न्यूज़ है या अभी टाइम लोगी ?
पूजा – राहुल, मैं तो चाहती हूँ की बेबी मुझे जल्द से जल्द हो जाए लेकिन
मैं – लेकिन? लेकिन क्या पूजा ?
पूजा – राहुल, पंकज शारीर में भी अच्छा है मुझे सारे सुख देता है हमारी सेक्सुअल लाइफ भी अच्छी है लेकिन पता नही क्यों मैं प्रेग्नेंट नही हो पा रही हूँ ।
मैं – डॉक्टर को दिखाया ?
पूजा – हाँ, दिखाया लेकिन मुझमे कोई कमी नही निकली, मैंने पंकज को भी बोला की वो एक बार टेस्ट करा ले लेकिन वो मानता ही नही । मुझे तो कई बार ऐसा लगता है कि उसमें कुछ कमी है शायद तभी वो टेस्ट नही कराता ।
मैं – चलो कोई बात नही, जब भगवान् ने चाहा तो बेबी तुम्हे जल्द ही होगा ।
पूजा – एक सवाल पुछु ?
मैं – हाँ, पूछो ।
पूजा – उस दिन जब हम लास्ट टाइम मिले थे जंगल में मैंने तुमसे पूछा था कि कौन है वो लड़की जिससे तुम चाहते हो । तुम आज बताओ उसका नाम ।
मैं – मैं उसका नाम नही बता सकता क्योंकि उसकी अब शादी हो चुकी है और अब उसका जिक्र करके कुछ फायदा नही ।
पूजा – मैं उसका नाम बताऊ वो मैं ही हूँ न ?
मैं – (मन में सोचा- इसको कैसे पता की मैं इसको ही चाहता हूँ ) ये तुम कैसे कह सकती हो की वो तुम हो ?
पूजा – राहुल शायद तुम एक बात भूल गए लेकिन ट्रिप से जाने से पहले मैंने अपना होमवर्क करने के लिए math की नोटबुक तुमसे ही लिया था जिसके लास्ट पेज पर मेरे नाम लिखे हुए थे वो भी हार्ट जैसे डिजाइन में और कई जगह लिखा हुआ था i love her cant tell to her.
मैं – (ओह्ह shit) हाँ, मैं तुमसे ही प्यार करता हूँ वो भी तब से जब से तुम्हे मैंने देखा है लेकिन कभी कह नही पाया क्योंकि मेरी औकात नही थी कुछ भी तुमहारे आगे ।
पूजा – ओह राहुल, इतनी सी बात आज तक छुपाया क्या मिला छिपा कर सिर्फ दर्द न वो भी मेरे वजह से
चलो आज मुझे प्रोपोज़ करो शायद जीवन भर नही लेकिन जब भी तुम मुझे मिलोगे मैं तुमसे तुमहारी फ्रेंड नही तुम्हरी प्रेमिका बन के मिलूंगी ।
मैं – रियली, ☺️ i love you pooja💋💏💏
पूजा – I love you too rahul I love you too much rahul💋💋💋💋
Rahul आज से तुम मुझे उसी नजर से देखना जैसे तुम मुझे सपने में देखते हो ।
मैं – मैं तुम्हे सपने में अपनी बीबी की नजर से देखता हूँ अब बीबी तो नही बन पाओगी न तुम तो शादी शुदा हो ।
पूजा – अगर बुरा न लगे तो एक बात बोलू ?
मैं – हाँ
पूजा – बीबी न सही लेकिन मैं चाहती हूँ की तुमको मैं बीबी का सुख तो दे ही सकती हूँ न
मैं – क्या मतलब
पूजा – तुम बुधु हो अभी भी ।
चलो मैं चलती हूँ कल यही पर मिलना सुबह 10:30 बजे
तब तुमको बताउंगी प्रैक्टिकल देकर ।

मैं ये शब्द सुनकर समझ गया कि कुछ तो ख़ास होने वाला है मेरी लाइफ में मैंने किसी तरह रात काटी और सुबह 10:15 पर ही वहां पहुच गया और वेट करने लगा उसका ।
11:00 बज गए लेकिन वो नही आई थी, मुझे लगा शायद वो कल मजाक कर रही थी मैंने सोचा अब फायदा नही चल घर वापिस जाता हूँ मैं जैसे ही उठा जाने के लिए पीछे एक आवाज आई राहुल रुको मैं आ गई ।
वो पूजा थी,
मैं – अरे बड़ा देर कर दिया आने में ?
पूजा – सॉरी राहुल, लेकिन मैं तुमको प्रैक्टिकल दिखाना था न इसलिए उसका ही इंतेजाम करने गई थी
फिर उसने मुझे बोला चलो पहाड़ पर जो होटल है वहाँ चलते है यहाँ बहुत से जानकार है मेरे ।
(एक्चुअली सोहना टाउन अरावली पर्वत के साइड में ही बसा हुआ है और उस पर एक टूरिस्ट होटल है)
मैं और पूजा दोनों वहां चले गए और जैसे ही रेसिपनिस्ट से मिली तो पूजा ने बोला 406 रूम नो. का कीय देना
रेसिपनिस्ट मैडम बोली
सर आपका नाम ?
मैं – मेरा नाम है ——–(पूजा :- पंकज श्रीवास्तव)
पूजा ने अपने पति का नाम बता दिया और मुझे लेकर जल्दी से रूम में ले गई ।
पूजा – राहुल, आज मैं तुम्हारी बीबी हूँ तुम मुझे आज अपनी बीबी समझो और जो तुमहारा दिल करता है वो करो आज मैं पूजा श्री वास्तव नही पूजा सिंह राजपूत हूँ
ये वर्ड सुनकर मुझे यकीन नही हुआ तो मैंने अपने आपको एक चुटकी भरी तो पूजा बोली क्या हुआ ?
यकीं नही हुआ क्या. ?
मैं – हाँ, मुझे यकीन नही हो रहा है ।
पूजा – रुको मैं यकीं दिलाती हूँ,
वो उठी और मुझे बेड पर धक्का मार कर गिरा दिया और खुद भी मेरे ऊपर आ गई उसकी झुल्फे मेरे कानों को स्पर्श कर रही थी, उसकी झील सी आँखे मुझे इस कदर देखे जा रही थी की मुझे डर लगने लगा कहीं में उसका दीवाना न बन जाऊ, 5 मिनट ऐसे ही देखते देखते उसने एक शब्द बोला
पूजा – बीबी को देखते ही रहोगे या कुछ करोगे
ऐसा सुनते ही मेरे अंदर का मर्द जग गया
और उसको पलटी मारके उसके ऊपर आ गया
पूजा – क्या बात है राहुल, 6 सालो में तुम बदल चुके हो
मैं – पूजा बेशक मेरा शरीर बदला है लेकिन मेरा दिल आज भी तेरे लिए धड़कता है ।
फिर मैंने उसके गुलाब के पंखुडियो जैसे होठो को अपने होठो से सहलाया उसने तुरंत अपनी आंखें बंद करली, और हल्के हल्के स्वर में बोला, राहुल i love you baby, प्लीज आज मेरी सुनी कोख को भरदो, मैंने धीरे से kiss उसके माथे पर किया और बोला पूजा मैं तुम्हे कितना चाहता हूँ बता नही सकता शब्दो में, लेकिन मेरे प्यार की निशानी मैं तुम्हे जरूर दूंगा ।
इतना बोलते ही मैं उसके होठो पर टुट पड़ा, रस से भरे होठ, चूसना स्टार्ट किया, उसमे भी भरपूर मदद करने लगी
कभी मैं उसके ऊपर वाले होठ को चूसता कभी वो मेरे होठ को चूसता इसी तरह चूसा चूसी में मैंने अपना जीभ उसके मुंह में डाल दिया तभी वो उसको भी चूसने लगी, आँखे बंद थी कमरे एक माध्य्म सी लाइट, हमे वक्त का पता नही चल रहा था, फिर मैंने उसके बूब्स के अहसास को महसूस किया माँ कसम यार जिस बूब्स को मैं क्लास में देखा करता था आज वो दोनों बूब्स (शायद 1-1 kg के होंगे) मेरे नीचे थे, फिर मैंने अपना हाथ उसके कमीज के तरफ ले गया और उसकी कमीज का बटन खोलने लगा 3 बटन खोलने के बाद 4th बटन तो बूब्स के प्रेसर से ही खुल गया, जैसे ही कमीज अलग हुआ बूब्स आज़ाद हो गए, फिर मैंने पूजा से बोला क्या मैं तुम्हारे दूध को पी सकता हूँ ?
पूजा – लेकिन मुझे दूध कभी हुआ नही अगर होता है तो पि लो
फिर मैंने अपना मुंह उसके राईट वाले बूब्स पर रखा और एक बच्चे की तरह चूसने लगा और दूसरे बूब्स को अपने हाथ से दबाने लगा तभी मैंने देखा की पूजा गर्म हो रही थी सासे चढ़ रही थी आवाज भी निकलने लगी थी
पूजा – आहहहहहहहहहहह, उफ्फ्फ, उई माँ
फिर थोड़ी देर चूसने के बाद मैंने महसूस किया कि कुछ गिला गिला मेरे मुह में गया फिर मैंने मुँह हटाया और हलके हाथों से दबाया तो पूजा ने भी देखा की उसको दूध होने लगा, फिर मैं दोबारा से उसके बूब्स को चूसने लगा और जैसे जैसे दूध निकलता गया मैं पीता गया, काफी देर तक ऐसे ही दोनों बूब्स को चूसने के बाद, मैं और नीचे की तरफ बढ़ा और उसने जो पेंट पहनी हुई थी उसका बटन खोला और ज़िप को खोल दिया और पैर की तरफ से पेंट का किनारा पकड़ कर उतार दिया, वो आज सिर्फ कमीज और पेंट में ही आई थी, न पेंटी न ब्रा,
जैसे ही मैंने उसकी चूत देखा एक दम साफ़, एक भी बाल नही थे हाथ लगा के महसूस किया तो लगा की शायद आज ही इसने सारे बाल साफ़ किये थे, फिर कुछ देर तक हाथों से सहलाने के बाद मैंने अपनी जीभ उसके चूत को चाटना शुरू किया, तभी वो बोली
पूजा – राहुल, नही राहुल प्लीज मेरे vigina को मत चुसो वो झूठा हो चूका है मैं नही चाहती की किसी दूसरे झूठन को तुम चाटो,
मैं – थोड़ी देर पहले तुमने ही बोला था कि मैं बीबी हूँ जो मर्जी वो करो
मुझे कोई फर्क नही पड़ता आज, तुम सिर्फ बीबी हो मुझे सिर्फ मेरी पूजा का प्यार चाहिए क्या तुम दोगी ?
पूजा – हाँ, राहुल मैं तुम्हे सारा प्यार दूंगी ।
फिर मैं उसके पूजा की चूत को अपने जीभ से चाटने लगा मेरे चाटने की वजह से उसके शरीर में सनसनाहट हो रही थी मुझे भी ऐसा लग रहा था जैसे मैं किसी तमकीन आइस क्रीम को चाट रहा हूँ 15 मिनट चाटने के बाद मैं सीधा हुआ और उसको अपने बाहों में लिया और उसके बूब्स मेरे सीने से लगे हुए थे मैं अपने दोनों हाथ उसके पीछे गांड पर रख सहलाने लगा और दूसरी तरफ मैं फिर से उसको kiss करने लगा पता नही क्योंकि मेरे अंदर की प्यास भुझ नही रही थी मैं लगातार उसके लिप्स और बूब्स को चुसता रहा फिर उसने महसूस किया कि मेरा लण्ड जो आलरेडी बड़ा हुआ पड़ा था उसको चुभ रहा था वो बोली राहुल 69 के पोजीशन में करते है मैं भी तैयार हो गया और जहाँ मैं लेता हुआ था वहाँ उसने अपनी चूत करी मैं कुछ समझ पाता इससे पहले ही पूजा ने मेरे लण्ड को अपने मुंह में लिया और चूसने लगी
तभी मेरे शरीर में एक करंट दौड़ा और मेरा लण्ड उस वक्त सिर्फ थोड़ा ही बड़ा हुआ था
उसके स्पर्श पा कर और बड़ा और मोटा हो गया वो और मैं एक दूसरे के अंगों को लगातार चूसते ही जा रहे थे इतने प्यारे पल कब बीत रहे थे पता नही चल रहा था तभी पंकज का फ़ोन आया पूजा के मोबाइल पर पूजा झट से हटी और मीठी स्माइल देते हुए मुझे कुछ हरकत न करने का इशारा किया और पंकज से बात किया
पंकज – पूजा कहाँ हो? रात के 7:00 बज गए है जल्दी घर आओ
पूजा – सॉरी पंकज, मैं अपनी सहेली स्नेहा के घर आई हुई हूँ उसकी तबीयत ज्यादा ख़राब है मैं कल ही आऊंगी।
पंकज – ठीक है, लेकिन कोशिश करना आज आजाओ।
पूजा – ठीक है मैं कोशिश करूँगी, बाई।
फ़ोन रखते ही पूजा ने फ़ोन टेबल पर रखा और मेरी तरफ दौड़ पड़ी मैं भी उसको ऐसे गौद में लिया जैसे बेबी को लेते है फिर वो बोली लगता है नुनु(लण्ड) को फिर जगाना पड़ेगा(😊😊)
मैंने कहा चलो फिर करते है वो इस बार बैठी हुई थी और मैं लेटा हुआ था उसने गर्दन नीचे की और मेरे लण्ड को चूसने लगी, चूसते चूसते मेरा लण्ड काफी बड़ा हुआ और एक दम लाल उसके ऊपर की चमड़ी तो पूरी नीचे जा चुकी थी तभी पूजा बोली राहुल अब इंतेजार नही होता
मैं सीधा हुआ और उसको लेटाया और अपना लण्ड उसके चूत पर रखा और एक जोर दार झटका मारा मेरा लण्ड तुरंत उसके चूत की गहराइयों में घुस गया जैसे ही मेरा लण्ड अंदर गया मुझे ऐसा लगा की किसी आग की भट्टी ने डाल दिया हो क्योंकि इतना गर्म गर्म महसूस हो रहा था कि मैं अंदर बाहर करता रहा उसको भी बड़ा मजा आ रहा था और उसकी मदहोश करने वाली आवाज से पूरे रूम में आवाज गूंज रही थी
कभी aahhhhhhhhhh uhhhhh uffffff maaaaa
5 मिंट बाद मैं नीचे हुआ और वो मेरे ऊपर आई दोनों घुटने बेड के सहारे और जंपिंग स्टार्ट हुआ up-down, up-डाउन, मेरा लण्ड इतने जोर झटकों से एक दम टाइट और लोहे जैसा हुआ पड़ा था फिर हम ऐसे ही पोजीशन चेंज करते रहे तभी जंपिंग के बीच में
उसने पूछा
पूजा – राहुल तुम्हरा फेवरेट पोजीशन कौन सा है
मैं – मेरा फेवरेट है डौगी स्टाइल (लेकिन गांड सेक्स)
पूजा – ohh my goddd😱 वो पोजीशन मैंने आज तक नही किया कहते है कि उसमें ज्यादा दर्द होता है
मैं – हाँ उसमे ज्यादा दर्द होता है लेकिन सिर्फ पहली बार में उसके बाद तो सिर्फ मजा आता है ।
पूजा – अच्छा जी, वो सेक्स तुमने कभी किया है किसी के साथ ?
मैं – नही, लेकिन मेरी इच्छा है कि जिससे भी मेरी शादी होगी उससे मैं ये सेक्स जरूर करूँगा ।
पूजा – तो मैं कौन हूँ ? आज?
मैं – मेरी बीबी ।
पूजा – तो क्या तुम मेरे साथ नही करोगे ?
मैं – हाँ करने का मन तो है लेकिन अभी तुमने बोला न की दर्द होता है ।
पूजा – हाँ मैंने बोला लेकिन मना तो नही किया न.

बस इतना सुनने के बाद मैं उससे अपने नीचे किया और उसकी दोनों टाँगे अपने कंधे पर रखा और अपना लण्ड उसके गांड के होल पर रखा पूजा के पहले ही अपनी आंखें बंद करली और दोनों हाथों से बेड के साइडों को पकड़ लिया मैंने भी देर न करते हुए उसके गांड के होल पर रखा लण्ड पुरे जोर से धक्का मार दिया ।
तभी मेरा लण्ड जस्ट थोड़ा सा ही अंदर गया कि पूजा की चीख निकल गई
पूजा – आहहहहहहहहहहहह, मर गई माँ, राहुल थोड़ा आराम से ।
मैं फिर से लण्ड निकाला और एक बार फिर से जोर का झटका मारा इस बार आधा अंदर गया फिर तेज आवाज निकाल कर चीखी माँ………………
इस बार मैंने लण्ड निकाला नही सिर्फ उसके अंदर ही रहने दिया और पूजा को आराम देने के लिए मैंने उसके होठो पर अपना होठ रखा और प्यार से चूसता रहा, जब 5 मिनट ऐसे ही किया तो उसका ध्यान हटा मैंने इसी बीच एक झटका मारा तब मेरा लण्ड अंदर पूरा गया उसको दर्द हुआ लेकिन kiss की वजह से ज्यादा आवाज नही निकली
मैंने इसी तरह लगातार 4-5
शॉट मारे और पूरा बेड खच्चर खच्चर की आवाज करने लगा और जैसे जैसे शॉट मरता रहा वैसे वैसे वो भी आवाज करती
मुझे फिर एक जगह फील हुआ की अब मैं झड़ने वाला हूँ मैंने तुरंत अपना लण्ड उसके गांड से निकाला और उसी तरह उसकी चूत में रख झटका मार अंदर किया मैंने उसको और ऊँचा किया कमर ऊपर करके ताकि उसके माँ बनने के चान्स ज्यादा से ज्यादा हो जाए फिर 30 सेकंड के अंदर मैंने अपना सारा वीर्य उसकी चूत की गहराइयों मे डाल दिया ।जैसे ही मैं ढीला पड़ा मैंने उसके बूब्स को चूसना शुरू किया और लण्ड उसी के चूत में डाले रहा ताकीवीर्य फैले न ।
10 मिन्ट की बूब्स चुसाई के मैंने अपना मुंह उसके बूब्स से हटाया और लण्ड बाहर निकाला जब हम दोनों शांत हो गए
हमने एक दूसरे के अंगों को चूस चूस कर साफ़ किया जब मै उसकी चूत साफ़ कर रहा था तभी मैंने उसकी जांघ पर एक तिल देखा जो उसके उलटे पैर पे था
तभी मैंने अपना पैर देखा क्योंकि सेम ऐसा ही तील मेरे राईट पैर पर है
मैंने पूजा से पुछा
ये तिल है या किसी इंजरी का निशान
पूजा – ये तिल है पर ऐसा क्यों पूछ रहे हो ?
मैं – अरे यार सेम इसी जगह मेरे राईट पैर पर मेरा भी निशाँ है
पूजा – तिल देखते ही बोली अरे हाँ यार, पर तिल ही तो है ज्यादा टेंशन की बात क्यों ?
मैं – बचपन में एक साधु बाबा आए थे जब मैं सिर्फ 3 महीने का था तब उन्होंने मेरे टिल को देखने के बाद एक भविष्यबानी की थी की जिस लड़की के उलटे पैर पर तिल होगा वो ही मेरी पत्नी बनेगी ।
पूजा – अच्छा ये तो सही बात होगई मैं आज तुमहारी ही बीबी हूँ न ।
रुको एक बात और सेम ऐसा ही तिल मेरी बहन (आरती) के जांघो पर भी है वो भी उलटे पैर पर ।
मैं – लगता है किस्मत मेरे साथ अच्छा मजाक कर रही है

पूजा और मैंने रात भर सेक्स किया और 2 दिन इसी तरह हमने सेक्स किया और सोहना से वापिस पलवल वापिस आ गया था
अब जब भी मैं सोहना जाता हूँ तब तब मैं पूजा के साथ सेक्स करता हूँ
भाइयो आपको जान कर ख़ुशी होगी
मैं पूजा के बच्चे का बाप बन गया हूँ 3 मंथ पहले ही पूजा को एक प्यारी सी बेबी गर्ल हुई है जिसका नाम उसने कहने पर संध्या रखा है मेरे और आरती से हुए बेटे का नाम विराज है ।
भाइयो पूजा और आरती दोनों ही मेरे द्वारा माँ बनी है
मैं बिन शादी के 2 बच्चो का बाप बन गया हूँ
अब हाल ही में मैंने शिवानी से शादी की है ।
आप अपना आशीर्वाद बनाये ताकि मुझे इस बार शादीशुदा वाला बाप बन पाऊ ।
मेरी आप बीती कैसी लगी
कमेंट करके जरूर बताया और दुआ करे की मुझे तीनो का प्यार ऐसे ही मिलते रहे ।

Comments