भाई बहन का अनोखा रिश्ता

हेलो दोस्तों मेरा नाम रोहित है, मेरी उम्र २३ साल है. मैंने अभी अभी दिल्ली में जॉब स्टार्ट किया है. मैंने एक १ BHK का फ्लैट रेंट पर लिया है.
दिल्ली में मेरी एक कजिन की शोभा शादी हुई थी, तब मैं छोटा था. मैंने सोचा दीदी से भी मिल लेता हूँ. मैं उनके ससुराल गया, वहा मुझे ये पता चला की दीदी यहाँ नहीं रहती. फिर उनलोगो ने मुझे एक पता दिया और बोला शायद यहा मिल जाएगी. मैं उनके दिए पते पर पंहुचा, वहा मुझे शोभा दीदी मिली, पर बहुत बुरी हालत में. दीदी एक छोटे से कमरे में रहती है, और बच्चो को टूशन पढ़ा कर अपना काम चला रही थी. मुझे देखकर दीदी की आँखों में आंसू आ गए..

दीदी: अरे रोहित कैसा है तू?
मैं: मैं तो ठीक हूँ दीदी, पर आप यहाँ क्यू रहती हो, अपने ससुराल में क्यू नहीं..
दीदी: भाई मैं क्या बताओ तुझे, मेरे इनलॉस दहेज़ के लिए पैसे की डिमांड करते थे… और नहीं देने पर उन्होंने मुझे घर से निकाल दिया.. तब से मैं यही रहती है.. किसी तरह गुजारा कर रही हो..

दीदी की हालत बहुत ख़राब थी … ना ढंग के कपडे थे ना ही रहने को सही जगह थी…काफी कमजोर लग रही थी…
मैं: मेरे रहते आप ऐसे रहे मुझे बिलकुल भी गवारा नहीं… आप मेरे साथ चलिए…
दीदी: नहीं भाई मैं तुम पर बोझ नहीं बनना चाहती …
मैं: दीदी आपने मुझे कितनी बार राखी बांधी है.. आपका भाई आपके लिए कुछ भी करेगा… अब आप चिंता मत करो…

मैंने जिद करके दीदी को अपने साथ ले, उसके पुराने मकान का ६ महीने का किराया बकाया था, उसे भर कर हम अपने फ्लैट पर आ गए..वहा १ महीने दीदी का मैंने अच्छा ख्याल रखा.. अब दीदी का हेल्थ ठीक हो गया और दीदी का बदन भी भर आया था.. मैंने एक दिन दीदी को बोला..

मैं: दीदी आज आपके लिए शॉपिंग करने चलते है..
दीदी: ठीक है भाई…

दीदी रेडी हो गयी… फिर हम वहा से एक मॉल गए.. वहा हमने दीदी के लिए नए कपडे लिए… टीशर्ट, जीन्स, नाईट ड्रेस, बॉक्सर, ब्रा और चड्डी.. फिर मैं उनको वहा से सीधा ब्यूटी पारलर ले गया… वहा मैंने दीदी का पूरा मेकओवर करवाया … उन्होंने दीदी का फेसिअल, हेयर कटिंग, फुल बॉडी वैक्सिंग, और मेकअप किया.. मैं बाहर दीदी का वेट कर रहा था… दीदी जब बाहर निकली तो मैं उन्हें देखता रह गया…
दीदी बहुत सी सुन्दर और सेक्सी माल लग रही थी… किसी सेक्सी मॉडल की तरह… अरे दोस्तों मैंने दीदी के बारे में तो बताया नहीं… दीदी की उम्र ३० साल है, गोरा बदन, लम्बा और चौड़ा कद है… फिगर ३८-३०-४० है… दीदी एक टॉप क्लास की माल लग रही थी.. उन्होंने मॉल से लिए हुए टीशर्ट और जीन्स पहन रखा था.. मैंने पहली बार दीदी को इस रूप में देखा.. आज मुझे दीदी का असली फिगर पता लगा… दीदी मेरे साथ रह कर गदरा गयी थी… मेरा मुंह तो खुला का खुला ही रह गया..

दीदी: और रोहित कैसी लग रही हो..
मैं: मस्त लग रही हो दीदी…
दीदी: थैंक्स भाई.. तूने मेरी जिंदगी बदल दी है…
मैं: दीदी मैं आपसे बहुत प्यार करता हूँ..
दीदी: आई लव यू तू ब्रदर .. यू चेंज्ड माय लाइफ …

दीदी ने मुझे हग कर लिया.. फिर हम वहा से एक रेस्टोरेंट गए वहा हमने डिनर किया.. वहा भी मैं दीदी का फिगर ताड़ रहा था… दीदी की तरबूज के जैसी बड़ी बड़ी चूचियां टीशर्ट फाड़ कर बाहर आने को बेताब थी.. हर साँस के साथ उनकी चूचियां हिल रही थी… और मेरा लंड खड़ा कर रही थी…
फिर हम वहा से घर चले आये… मैं सोफे पर बैठ कर टीवी देखने लगा… दीदी मेरे पास आयी और मेरे से चिपक कर बैठ गयी…वो मेरे कंधो पर सर रख कर टीवी देख रही थी..दीदी का क्लीवेज काफी दिख रहा था…दीदी ने छोटा सा बॉक्सर पहना हुआ था.. जिससे उनकी मोटी और चिकनी टाँगे दिख रही थी…बॉक्सर में उनकी भारी चुत्तड़ काफी बड़ी लग रही थी…

दीदी: भाई तूने मेरी लाइफ चेंज कर दी…
मैं: दीदी यू आर माय सिस्टर एंड आई लव यू…
दीदी: पर भाई मैं भी तेरे लिए कुछ करना चाहती हूँ
मैं: इसकी कोई जरुरत नहीं है.. ये तो मेरा फ़र्ज़ है..
दीदी: मेरा भी फ़र्ज़ है अपने भाई का ख्याल रखना …

दीदी ने टीवी बंद कर दिया .. और मेरे सामने खड़ी हो गयी…

दीदी: तुझे मैं कैसी लगती हूँ
मैं: अच्छी लगती हूँ दीदी…
दीदी: ठीक से बता ना.. तुझे मैं सुन्दर लगती हूँ..
मैं: हाँ दीदी आप बहुत सुन्दर हो
दीदी: और सेक्सी?
मैं: क्या बोल रही हो दीदी आप…
दीदी: अरे शर्मा नहीं… ठीक से मेरा फिगर देख और बता…

दीदी मेरे सामने गोल गोल घूम घूमकर अपने बदन की नुमाइस करने लगी… दीदी ने टाइट टीशर्ट पहना हुआ था… जिसमे पहाड़ जैसा उभार निकला हुआ उनकी बड़ी बड़ी चूचियों के कारण … बॉक्सर भारी चुत्तड़ो से चिपक गयी थी……

मैं: बहुत मस्त फिगर है आपका दीदी..
दीदी: ठीक से बता … मेरी चूचियां कैसी लगती है….
दीदी झुककर अपनी चूचियों को दिखने लगी… टीशर्ट के अंदर से मुझे उनकी गोरी गोरी नंगी चूचियों के दर्शन हो रहे थे…
मैं: उफ्फ्फ्फ़ आपकी तरबूज जैसी ये बड़ी बड़ी चूचियां तो क़यामत है..
दीदी: और मेरी गांड?
दीदी ने अपनी कसी हुई चुत्तड़ मेरे मुंह के पास ले आयी…
मैं: ये क्या दिखा दिया दीदी अपने… इतनी गदरायी हुई भारी गांड किसी का भी लंड खड़ा कर सकती है…
दीदी: मतलब मैं तुम्हे सेक्सी माल लगती हूँ
मैं: अरे दीदी आप तो बहुत हॉट माल हो… पूरा जवानी के रश से भरा हुआ गदराया बदन है आपका…
दीदी: तो फिर ठीक है.. मैंने भी तुम्हारे लिए कुछ करना चाहती हूँ… मेरे पास सिर्फ ये बदन है…. और मैं चाहती हूँ की तू भोग ले इस बदन को…
मैं: ये क्या कह रही हो दीदी..
दीदी: भाई मुझे पता है इस उम्र में मर्दो की कुछ जरूरते होती है… मैं चाहती हूँ की मैं अपने भाई की जरूरते पूरी करू…
दीदी ने फिर मेरा हाथ अपनी चूचियों पर रख दिया…
दीदी: भाई शर्मा मत… दबा इन चूचियों… चूस इन्हे..
मैं दीदी की चूचियों को दबाने लगा और किश भी करने लगा… दीदी ने भी किश का अच्छा रिस्पांस दिया… मैं उनकी भारी चुत्तड़ो को सहला रहा था, और दबा रहा था.. बहुत ही बड़ी और सेक्सी गांड थी…
दीदी: अह्ह्ह्हह भाई खूब मसल इन चूचियों को….
मैं: दीदी उफ्फफ्फ्फ़ आज अपने मेरी मन की मुराद पूरी कर दी… इन तरबूजों को मैं कबसे मसलना और चूसना चाहता था…
दीदी: ओह्ह्ह्हह … उउइइइइइइइ भाई पूरा कर ले अपना सारा अरमान

मैंने दीदी की टीशर्ट उतर दी, उनके आम अब हवा में उछल रहे थे… बहुत ही बड़ी बड़ी टाइट चूचियां थी… मैंने चूचियों को खूब दबाया और चूसा… दीदी काफी मोअन कर रही थी…दीदी ने मेरा लोअर उतर दिया और मेरा लंड चूसने लगी.. दीदी ने मस्त चूस कर मेरा लंड पूरा खड़ा कर दिया…. फिर मैंने दीदी को सोफे पर लेटाया और उनकी चिकनी टांगो को सहलाया और चूमने लगा.. दीदी ने आज फुल बॉडी वैक्सिंग करवाई थी.. एकदम चिकना सेक्सी बदन हो रखा था… फिर मैंने उनकी बॉक्सर उतर दी और चड्डी भी.. दीदी की चिकनी बूर अब नंगी मेरे सामने थी.. बहुत ही सुन्दर चुत थी साली की… मैं दीदी की चुत चाटने लगा…दीदी की मॉनिंग तेज हो गयी…. आईईईई …. ओह्ह्ह्हह्ह की आवाजे गूंज रही थी…

मैं: मस्त बूर है दीदी आपकी…
दीदी: भाई अब तड़पा नहीं अपनी दीदी… पेल दे अपना लंड इस बूर और चोद ले अपनी बहन को…

मैंने बहुत हलके से अपना लंड दीदी की बूर में डाल दिया..दीदी की बूर काफी टाइट थी… थोड़ा दम लगा कर मैंने अपना लंड पूरा दीदी की बूर में घुसेड़ दिया… और दीदी को चोदने लगा.. दीदी भी फुल एन्जॉय कर रही थी…

दीदी:ओह्ह्ह्हह भाई… तूने मेरी मदद की है… आज से ये बदन तेरा है….
मैं: उफ्फफ्फ्फ़ दीदी … यू आर सो ग्रेट …. इतना सेक्सी बदन चोदने में बहुत मजा आ रहा है…
दीदी: आअह्ह्ह्ह भाई पूरा मजा ले ले … भोग ले मेरा जवान बदन…
मैं: ओह्ह्ह्हह्ह दीदी …. देख तेरे भाई का लंड कैसे तेरी बूर चोद रहा है…
दीदी: उईईईईई… और चोद भाई… लगा लम्बे लम्बे शॉट…
मैं: ओके दीदी…

मैंने अपनी रफ़्तार बढ़ा दी… मेरा लंड दीदी की बूर की भयानक चुदाई कर रहा था… मैं उनकी बड़े बड़े आमो को दबा दबा कर चोद रहा था…

दीदी: उईईईईई … आआहहहहहह भाई … बहुत मजा आ रहा है… चोद अपनी बहन को…
मैं: आई लव यू दीदी… यू आर सो सेक्सी
दीदी: आई लव यू तू रोहित… अब इस बदन पर सिर्फ तेरा हक़ है… आज से मैं तेरी रखैल हूँ… जितना चाहे चोद मुझे…
मैं: ओह्ह्ह माय स्वीट दीदी… आई लव फकिंग यू…
दीदी: ओह्ह्ह्ह भाई… फ़क मी हार्डर…

मैं पूरा लंड निकाल कर फिर जोर से अंदर पेल रहा था.. हर शॉट में दीदी की चींखे निकाल आती…जो मेरा जोश बढ़ा रही थी… उनकी चूचियां हर शॉट में उछल रही थी… जिसे मैं दबा दबा कर दीदी की चुदाई कर रहा था…

दीदी: आह्ह्ह्ह…. उईईईईई
मैं: दीदी आज से आप डेली मेरे साथ सोना… मैं खूब चोदूँगा आपको…
दीदी: उफ्फ्फफ्फ्फ़ …. ओह्ह्ह्हह्ह भाई… मैं तेरा बिस्तर डेली गरम करूंगी… अपने भाई को कोई कमी नहीं होने दूँगी… चल अभी और चोद अपनी रांड को…
मैं: येलो दीदी….

बहुत घमाशान चुदाई के बाद हम दोनों झड़ गए और एक दूसरे को चूमने लगे….

मैं: आई लव यू दीदी…
दीदी: आई लव यू तू रोहित…

फिर मैंने दीदी के पुरे बदन को किश किया और हमदोनो लिपट कर सो गए….

Comments