मेरी सेक्सी बीवी ने अपने पहले ग्रुप सेक्स का ज़बरदस्त मज़ा लिया

मेरा नाम सागर है मैं बेंगलुरु में रहता हूं यहां पर मेरा इलेक्ट्रॉनिक्स का कारोबार है मैं शादीशुदा हूं और मेरी वाइफ का नाम निशु है. मेरी उम्र 34 साल है और निशु की उम्र 32 साल है हमारी शादी को 7 साल हो गए हैं हमारी शादी शुदा लाइफ बहुत मजेदार चल रही थी हमें सेक्स में एक्सपेरिमेंट करना बहुत पसंद है……. लेकिन हम एक दूसरे के साथ सभी कुछ ट्राई कर चुके थे और सेक्स में कुछ नयापन नहीं ला पा रहे थे | अब हम अपनी सेक्स लाइफ को रोमांचक बनाने के लिए कुछ नया ट्राई करना चाहते हैं

मैंने निशु से कहा कि वह कुछ आईडिया दे… निशु ने कहा यह काम करते हैं आप कुछ भी नया आईडिया लाओ जो आपको Exite करता हूं हम दोनों वहीं ट्राई करेंगे.

मैंने कहा कि ऐसा भी हो सकता है कि मेरा आईडिया आपको पसंद ना आए. निशु ने कहा कि आपका आईडिया मेरे लिए सरप्राइज़ की तरह होगा और मैं उसको पूरी तरह इंजॉय करूंगी करूंगी. निशु ने मुझे Idea सोचने के लिए 2 दिन का वक्त दिया. मैंने कहा ठीक है और मैं सोचने लगा कि सेक्स का कुछ जबरदस्त आईडिया निकाला जाए.

निशु एक बहुत ही सेक्सी औरत है. वह गोरी-चिट्टी है और उसकी फिगर 38 32 38 है उसकी चूचियां गोल और गोरी-चिट्टी हैं…. निशु की चूत बेहद खूबसूरत है निशु की गांड तो इतनी खूबसूरत है जब वह कहीं जाती है तो लोग उसकी गांड को बड़ी ललचाई नजरों से देखते हैं…

निशु ऐसी औरत है जिसको देखकर लोग आहें भरने लगते हैं और उसे चोदने के सपने देखने लगते हैं यह बात निशु को भी पता है और यह बात वह मुझे बताती रहती है कि किस तरह लोग उसे बहुत ही सेक्सी नजर से देखते है. मैंने उससे मजाक में कई बार कहा है कि अगर कोई लड़का तुझे सुंदर लग जाए तो बता देना मैं उससे तुम्हारी चुदाई करवा दूंगा | वह हंसकर मना कर देती है पर शर्म से उसके गाल लाल हो जाते हैं.

यहां से मुझे आईडिया आया कि निशु को एक साथ 2 खूबसूरत लड़कों के साथ चुदवाता हूं….. निशु जैसी खूबसूरत औरत को औरत होने का संपूर्ण सुख मिलना चाहिए| मैंने प्लान बनाया कि मैं और दो और लड़के मिलकर निशु के साथ सामूहिक संभोग करेंगे और उसके कोमल व खूबसूरत शरीर को पूरी तरह भोगेंगे.

मैंने सोचा अगर निशु मान गई तो वह भी ग्रुप सेक्स को बहुत ज्यादा इंजॉय करेगी… निशु भी उसको बहुत एंजॉय करेगी जब वह एक साथ 3 लड़कों के लिए आकर्षण का केंद्र होगी और उसके मांसल बदन को एक साथ तीन लड़के चुम्मा-चाटी करेंगे, उसकी चुचियों को दबाएंगे, उसकी गांड की पिटाई करेंगे.. और निशु एक साथ तीन लंडो के साथ खेलेगी…. इस विचार ने मुझे बहुत ही एक्साइटेड कर दिया था.

मैंने अगले दिन निशु को बुलाया और कहा कि मैंने Idea ढूंढ लिया गया है… निशु बोली.. मैं तो 2 दिन से इंतजार कर रही हूं मुझे अंदर से बहुत गुदगुदी हो रही है | मैंने कहा की Idea भी ऐसा है जो आपको अंदर तक गुदगुदा देगा. निशु अब और भी एक्साइटेड हो गई थी और वह मेरे Idea बताने का इंतजार करने लगी…. मैंने कहा कि आईडिया यह है कि आपके पूरे शरीर को एक साथ सेक्स का तोहफा दिया जाए और आपके अंदर की औरत को वासना में डुबो दिया जाए जिससे आपको औरत होने का संपूर्ण आनंद मिल सके. निशु ने थोड़ी देर सोचा (निशु शायद समझ गई थी) और फिर मेरी तरफ शरारत भरी नजरों से देख कर पूछा, पर पर मुझे वासना में पूरा कैसे डुबाओगे?

मैंने उसे बताया कि हम अपनी सेक्सी लाइफ को स्पाइसी करने के लिए ग्रुप सेक्स करेंगे. मैं और दो और खूबसूरत लड़के आपके साथ एक साथ सामूहिक संभोग करेंगे. और आपको पूरी रात जन्नत की सैर कराएंगे.

निशु के गालों की लाली बता रही थी कि वह अंदर से बहुत एक्साइटेड है और वह थोड़ी देर तक कुछ भी नहीं बोली बस सोचती रही. उसने थोड़ी देर सोचा और फिर कहा कि नहीं यह ठीक नहीं रहेगा पता नहीं कैसे हो पाएगा. मैं यह नहीं कर पाऊंगी…

मैं समझ गया था कि वह भी इस विचार को लेकर एक्साइटेड तो है पर अभी उसे समझ नहीं आ रहा कि हां करूं या ना करूं. मैंने उससे पूछा की Idea अच्छा नहीं लगा क्या? तो उसने बोला कि ऐसी बात नहीं है, Idea तो इतना ज्यादा एक्साइटेड है कि मुझे समझ नहीं मुझे समझ नहीं आ रहा है कि यह सब हम करेंगे कैसे? मैंने कहा आपने कहा था जो भी आप Idea लाओगे हम उसे एंजॉय करेंगे. उसने कहा वह तो ठीक है पर मुझे समझ नहीं आ रहा है उन दोनों के सामने में यह कैसे कर पाऊंगी. मैंने कहा आप बस अपने शरीर को तैयार करो…. करनेवाले सब कुछ अपने आप ही कर लेंगे आप इतनी खूबसूरत हो कि आपको बस खुद को समर्पित करना है बाकी सब तो वह लड़के खुद कर लेंगे इतनी सुंदर गांड, चूत और मुंह चोदने के लिए आसानी से नहीं मिलता है|

वह मुस्कुराते हुए शरारती नजरों से मेरी तरफ देखने लगी… मैंने कहा आप अपनी चुदाई की तैयारियां करो मैं आपके चुदाई के लिए लड़कों का अरेंजमेंट करता हूं| निशु शरारती अंदाज में कहा चलो ठीक है आप लड़के तैयार करो मैं भी आप तीनों से खूब मजे ले लेकर चुदवाऊंगी…..

क्योंकि निशु जितनी खूबसूरत औरत है, उसे चोदने वाले लड़के भी उतनी ही शानदार मर्द होने चाहिए तभी वह खुलकर और मजे लेकर चूत पाएगी और अपनी हवस की पराकाष्ठा को पार करेगी. इसलिए मुझे निशु के लिए दो खूबसूरत लड़कों का अरेंजमेंट करने में काफी दिक्कतें आई| ऑनलाइन वेबसाइट से ढूंढने के बाद मैं काफी लड़कों से मिलाऔर उनमें से मैंने दो लड़के फाइनल किए जो मुझे लगे कि निशु को देखते ही पसंद आ जाएंगे |

लड़के पसंद करने के बाद मैंने उन्हें निशु का फोटो दिखाया जिसे देखकर वह देखते ही रह गए और कहने लगे की भाभी जी तो बहुत सुंदर हैं. मैंने उनसे कहा कि मेरी पत्नी जितनी खूबसूरत है उसकी चुदाई भी उतनी ही जबरदस्त होनी चाहिए |

मैंने निशु से कहा कि मैंने तुम्हारे लिए बहुत सुंदर लड़के ढूंढ लिए हैं | उसने कहा मुझे लड़कों के फोटो तो दिखाओ जो मुझे चोदने वाले है | जब मैंने दोनों लड़कों के नग्न फोटो निशु को दिखाइए तो उसकी खुशी का ठिकाना नहीं रहा. उन लड़कों की शानदार बॉडी और खूबसूरत लंड देखकर निशु खुशी से पागल हो गई. उसने कहा कि अब मुझसे इंतजार नहीं हो रहा है आप जल्दी से हमारी चुदाई का प्रोग्राम बनाओ |

हमने अंडमान निकोबार के एक होटल में 15 दिन बाद हम के दो कमरे बुक करा दिए |

निशु ने तैयारियां शुरू कर दी… हमने सेक्स करना बंद कर दिया जिससे निशु मिलन वाली रात को ज्यादा से ज्यादा एंजॉय कर सके| निशु ने अपने लिए 3 – 4 सेक्सी ट्रांसपेरेंट ड्रेसेस खरीदी और अपने शरीर पर फुल बॉडी वैक्स कराया.

निशु अब मिलने के दिन का बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रही थी…….

हम अपनी प्लान के हिसाब से दोपहर तक अंडमान निकोबार के अपने होटल में पहुंच गए. मैंने अपना और उन दोनों लड़कों का कमरा आमने सामने ही बुक कराया था जिससे एक दूसरे कमरे मे जाने में दिक्कत ना हो. दोनों लड़के निशु से मिलने के लिए र्और निशु उन दोनों लड़कों से मिलने के लिए बहुत बेचैन थे.

हमने शाम को मिलने का प्रोग्राम बनाया. निशु ने नहाकर एक बहुत ही सेक्सी शॉर्ट ड्रेस पहनी जिसमें सिर्फ उसकी चूचियां कमर और गांड तक का का हिस्सा ढका हुआ था लेकिन ड्रेस इतनी ट्रांसपेरेंट थी निशु का गोरा एवं मांसल सेक्सी शरीर उस ट्रांसपेरेंट ड्रेस के अंदर से ढका हुआ भी दिख रहा था. हमने टेबल पर कुछ खाने का सामान और दारु की बोतल और गिलास सजा दिए कमरे में हल्की लाइट जल रही थी.

अब बारी थी दोनों लड़कों को इंट्रोड्यूस कराने की जिसका निशु बड़ी बेसब्री से इंतजार कर रही थी मैंने दोनों लड़कों को फोन कर दिया कि वह हमारे कमरे में आ जाएं | थोड़ी देर बाद हमारे कमरे की डोर बेल बजी… निशु मेरी तरफ देख कर बोली कि वह दरवाजा खोलकर उनको रिसीव करेगी मैंने कहा इससे अच्छा तो कुछ हो ही नहीं सकता | निशु ने दरवाजा खोल कर उनका स्वागत किया और उन को अंदर ले आई | मैंने नोटिस किया कि जब उन को अंदर लाते हुए निशु उनके आगे आगे चल रही थी तो दोनों लड़के निशु के शरीर को पूरी तरह निहार रहे थे और उनके चेहरे के भाव से मैं बता सकता हूं कि वह बहुत ही एक्साइटेड थे | मैंने उनसे हाथ मिलाया और बैठने के लिए कहा मैंने निशु का दोनों लड़कों से परिचय कराया. उनका नाम राज और करण था |

राज ने निशु से कहा कि भाभी जी आप अपनी फोटो से भी कहीं ज्यादा खूबसूरत हैं. करण ने गर्दन हिलाते हुए कहा कि हां सचमुच आप बहुत खूबसूरत हैं. निशु को शर्म आ गई और उसने अपनी गर्दन नीचे कर ली.

मैंने निशु से कहा कि वह पैग बनाए और अपने हाथों से और अपने हाथों से सर्व करें. निशु से व्हिस्की के पैग बनाने शुरू किए और करण और राज उसके शरीर को निहारते रहे. पैग बनाने के बाद निशु ने अपने हाथों से सबको पैग दिया. मैंने पैग उठाकर कहा कि यह पैग मेरी सेक्सी बीवी की शानदार रात के नाम, करण और राज ने भी कहा भाभी जी यह पैग आपकी खूबसूरती के नाम. और सभी चीयर्स करके अपना पैक खत्म किया. मैंने राज और करण से कहा कि वह निशु को अपना सेक्सी शरीर दिखाएं. निशु ने मेरी तरफ देखा और बोली, सागर उनके कपड़ों में अपने हाथों से उतारूंगी. यह सुनकर मुझे बहुत अच्छा लगा मैंने उसे कहा कि आज की रात आपकी है… आप जैसे चाहो हम तीनों का इस्तेमाल करो | निशु ने आगे बढ़कर पहले करण की और फिर राज की शर्ट उतार दी. दोनों लड़के खूबसूरत थे. उनकी खूबसूरत और मांसल बॉडी देखकर निशु की खुशी का ठिकाना नहीं रहा. तभी मैंने सबको एक-एक पैग और बना कर दिया. सभी ने अपना पैक खत्म किया… निशु ने राज और करण की छाती पर हाथ फिराना शुरू किया |

करण और राज निशु के शरीर से छेड़छाड़ करने के लिए तड़प रहे थे| करण और राज ने निशु को बीच में ले लिया और वह उसके खूबसूरत बदन को सहलाने लगे निशु बहुत एक्साइटेड हो रही थी क्योंकि करण और राज निशु के शरीर को एक साथ धीरे-धीरे सहला रहे थे | यह उसका पहला अनुभव था जिसमें 2 जवान मर्द उसके शरीर से एक साथ खेल रहे थे | निशु ने करण की पेंट का हुक खोला और उसके कूल्हों पर हाथ फिराते हुए उसकी पेंट को नीचे उतार दिया उसकी पेंट उतारते हुए निशु की नजरें उसके लंड को देख रही थी जो अब धीरे-धीरे बड़ा हो रहा था | राज की पैंट उतारने से पहले निशु ने राज की गांड और उसके लंड के ऊपर हाथ फिराया और फिर उसकी पेंट को उतार दिया. अब दोनों लड़के सिर्फ अंडरवियर में थे |

इसी बीच करण निशु के पीछे सट कर खड़ा हो गया और उसकी चूचियों को धीरे-धीरे दबाने लगा. निशु ने राज को थोड़ा अपनी तरफ खींचा और अपने शरीर से चिपका लिया जिससे उसका लंड निशु की चूत पर स्पर्श करने लगे और वह राज के शरीर को महसूस करने लगी. निशु राज की चुचियों को अपने दांतों से छोड़ने लगी और उसकी कमर और उसकी गांड पर हल्का हल्का हाथ फिर आने लगी. अब कमरे में सिसकियां गूंजने लगी थी निशु अब करण के शरीर को भोगना चाहती थी | निशु ने अपना मुंह करण की तरफ किया और उसकी उभरी हुई छाती को चाटना शुरू किया शुरू और उसकी कमर और उसकी गांड पर हाथ फिराया लगी. करण और राज निशु के खूबसूरत गोरे बदन को बुरी तरह से छोड़ने लगे, और उनके द्वारा जाने से भी हो बहुत ही एक्साइटेड हो रही थी हो और उसके अंदर वासना अपने चरम पर जा रही थी |

यह सब देखना मेरे लिए बहुत ही उत्तेजक अनुभव था | तभी निशु उनके बीच से निकली और मेरे पास आकर मुझे बेतहाशा किस करने लगी मैं भी उसे किस करने लगा और उसकी गांड को सहलाने लगा | उसने कहा जानू मुझे यह अच्छा दिन देने के लिए थैंक यू. | मैंने राज से कहा कि एक एक पैग और बनाओ और सब को पिलाओ. राज पैग बनाने लगा और करण मेरे पास आकर निशु से चिपक गया. अब वह दोनों निशु को एक पल के लिए भी उनके बदन से दूर नहीं रखना चाहते थे. राज ने सबको पैग बना कर दिया और सबने अपना अपना पैग फिनिश किया. अभी सेक्स के नशे के अलावा दारू का नशा भी सब पर हावी हो रहा था. जिसने अब कमरे में शर्म को खत्म कर दिया था जो कि मैं चाहता भी था. निशु भी अब बेशर्म थी. निशु राज के पास गई और उसके होठों पर किस करते हुए उसके अंडरवियर के ऊपर से लंड सहलाने लगी. | राज का लंड अब पूरी तरह खड़ा हो चुका था निशु ने धीरे से अंडरवियर के अंदर हाथ डाला और लंड को बाहर निकाल लिया | राज का लंड बेहद खूबसूरत और बड़ा था राज के लंड को देखकर निशु के चेहरे की खुशी देखते ही बनती थी वह अपने घुटनों पर बैठ गई और अपने हाथों से राज का लंड सहलाने लगी. अब निशु जल्दी से करण का लंड भी देखना चाहती थी |

निशु ने करण को अपने पास बुलाया और उसकी तरफ मुंह करके बैठ गई. धीरे-धीरे करण के अंडरवीयर के ऊपर से ही उसके लंड पर हाथ फिराने लगी. करण का लंड भी पूरी तरह से खड़ा हो चुका था और अंडरवियर के अंदर से ही बाहर झांक रहा था. निशु बहुत एक्साइटेड हो रही थी. निशु ने अंडर वियर धीरे-धीरे नीचे उतार दिया. इस बीच निशु की नजर सिर्फ करण के लंड पर थी जैसे ही करण का लंड अंडरवीयर से बाहर निकला निशु ने करण की गांड को जोर से पकड़ लिया अब वह अपनी एक्साइटमेंट छुपा नहीं पा रही थी क्योंकि करण का लंड राज के लंड से भी थोड़ा ज्यादा मोटा और लंबा था देखने में भी बहुत ही खूबसूरत था. एक साथ दो बेहद खूबसूरत और बड़े लंडों को पाकर निशु एक्साइटमेंट से कांप रही थी. उसने मुझसे कहा कि जानू आप ने मेरे लिए बहुत ही शानदार मर्दों का इंतजाम किया है. मैं आपको बता नहीं सकती कि मैं कितनी खुश हूं. | उसने अपने दोनों हाथों में राज और करण के लंड को पकड़ लिया और हिलाते हुए अपने मुंह से चाटने और चुसने लगी | कभी राज का लंड अपने मुंह में ले लेती और कभी करण का लंड अपने मुंह में ले लेती | निशु ने उन दोनों को बेड पर चलने के लिए कहा और उन्हें बेड पर पास-पास लिटा दिया जिससे वह उन दोनों को लंडो को एक साथ चाट सके. निशु ने डॉगी स्टाइल में लेट कर उन दोनों के लंडो को चाटने लगी और मुझसे बोली कि आप पीछे से मेरी गांड और मेरी चूत को चाटो. यह सुन कर मेरा लंड भी लार टपका रहा था. निशु ने अपनी गांड को थोड़ा ऊपर उठाया और मैं पीछे से उसकी चूत और उसकी गांड को चाटने लगा |

मुझे निशु की नमकीन चूत को चाटने में बहुत मजा आ रहा था | मैं उसकी चूत में अंदर तक जीभ फिरआने लगा. जितना अंदर तक मैं उसकी चूत में जीभ घुमाता उतना ही ज्यादा जोर जोर से वो उन दोनों लड़कों के लंडो को चाटने लगती | निशु इन दोनों लड़कों के लंडो को अपने गले के अंदर तक ले रही थी. निशु की लार से दोनों के लंड और आंड पूरी तरह भीग चुके थे | राज और करण ने कहा कि वह भी निशु की चूत को चाटएंगे क्योंकि वह भी उसकी चूत का नमकीन स्वाद लेना चाहते हैं | इतनी खूबसूरत चूत रोज-रोज चाटने को नहीं मिलती | निशु ने कहा कि चलो एक एक करके मेरी चूत को चाटो. अब राज निशु की चूत को चाटने लगा और निशु मेरे और करण के लौडो को चाटने लगी | अब करण की बारी थी करण निशु की चूत को चाटने लगा और निशु मेरे और राज के लौडो को चाटने लगी |

इतना जबरदस्त चटाई और चुसाई के बाद अब सभी वासना में पागल हुए जा रहे थे | निशु बुरी तरह से तड़प रही थी और वह बहुत जबरदस्त तरीके से चुदना चाहती थी | उससे भी ज्यादा राज और करण तड़प रहे थे जो निशु को बहुत बुरी तरह से चोदना चाहते थे | राज और करण ने कहा कि भाभी जी और इंतजार मत कराओ… निशु ने उसने कहा कि राज और करण मैं भी बहुत तड़प रही हूं … मैं आज तुम दोनों को छूट देती हूं , तुम दोनों जैसे चाहते हो मुझे यूज करो… मेरी जैसी चुदाई करना चाहते हो वैसी चुदाई करो… तुम जो कहोगे मैं वैसा ही करूंगी और तुम जैसे चोदना चाहोगे मैं वैसे ही चुदवाऊंगी…

यह सुनकर यह सुनकर हम तीनों का लंड अकड़ा जा रहा था.. करण ने कहा भाभी जी हम तीन लोग हैं आप कैसे कैसे चुदाई करवाओगी? …… निशु ने कहा तुम तीनों एक साथ मिलकर मेरी सवारी करो और मेरे तीनों छेदों में अपने लंड भर दो. सागर आप मेरे मुंह में अपना लंड डालो और राज और करण दोनों एक साथ मेरी चूत और गांड की चुदाई करेंगे.

करण का लंड सबसे मोटा था इसलिए निशु सबसे पहले करण का लंड अपनी चूत में लेना चाहती थी | निशु ने करण को बेड पर ऊपर की तरफ मुंह करके लिटाया और अपनी टांगें चौड़ी करके उसके लंड को अपने हाथ से पकड़ कर अपनी चूत के मुंह पर लगा दिया | निशु अब धीरे-धीरे नीचे बैठ रही थी और करण का लंड निशु की चूत के अंदर जाने लगा था | करण का लंड निशु की चूत के अंदर टाइट जा रहा था लेकिन निशु की चूत इतनी चिकनी हो चुकी थी कि उसेने करण के पूरे के पूरे लंड को धीरे-धीरे अपनी चूत के अंदर ले लिया | इस दौरान निशु और करण एक दूसरे की आंखों में देखते रहे और पूरा लंड अंदर लेने के बाद निशु बोली कि तुम्हारा लंड बहुत स्वादिष्ट है मैंने लंड स्वाद इतनी गहराई तक कभी नहीं लिया… करण का लंड अंदर लेने के बाद निशु करण के ऊपर डॉगी स्टाइल में झुक गई जिससे कि राज निशु की गांड में अपना लंड घुसा सके | राज ने अपने लोड़े का मुंह जैसे ही निशु की गांड पर रखा निशु मेरी तरफ देखने लगी….

आज वह पहली बार एक साथ एक से ज्यादा लोडे के मजे लेने जा रही थी. राज धीरे-धीरे निशु की गांड के छेद पर अपने लंड का चिकना चिकना सुपाडा घुमा रहा था निशु और तड़प गई और कहने लगी राज यह लंड मेरी गांड के अंदर डालो आज मैं पहली बार एक साथ दो लंड अपने अंदर महसूस करूंगी | यह सुनते ही राज ने अपना लंड धीरे-धीरे निशु की चिकनी गांड में सरकाना शुरू किया लेकिन उसका लंड बहुत बड़ा था इसलिए निशु को दर्द भी होने लगा पर एक साथ दो लंड अपने अंदर लेने की खुशी के सामने वह दर्द कुछ भी नहीं था | निशु ने राज के पूरे लंड को धीरे-धीरे अपनी गांड के अंदर ले लिया | हम तीनों ने एक साथ मिलकर निशु को धक्के मारने शुरू किए और निशु ने भी आगे पीछे हिलकर राज और करण के लौडो को अपने अंदर लेना शुरू किया. अब निशु एक साथ तीन लोगों के लंडो का मजा ले रही थी और यह उसकी जिंदगी का एक यादगार दिन था क्योंकि आज उसके शरीर के तीनों खूबसूरत छेदों का एक साथ पहली बार इस्तेमाल हुआ था |

पहली बार एक साथ तीन खूबसूरत लंडो से चुदाई का मजा निशु को पागल बना रहा था…. निशु बोली मुझे जोर जोर से चोदो….. मुझे आज सारी रात छोड़ दो और मेरी सेक्सी बीवी जोर-जोर सेआगे पीछे होने लगी. अपनी बहुत ही सेक्सी बीवी को एक साथ तीन लोगों से चोदते हुए देखकर मुझे बहुत ही अच्छा लग रहा था. राज और करण भी इतनी खूबसूरत औरत की चुदाई से बहुत ज्यादा एक्साइटेड हो रहे थे और वह निशु की चूत और गांड को जोर जोर से चोदने लगे | निशु का गोरा चिट्टा खूबसूरत शरीर तीन मर्दों के बीच में चुदता हुआ बेहद सेक्सी लग रहा था | मैंने और निशु ने सेक्स में इतना एक्साइटमेंट कभी पहले फील नहीं किया था |

निशु अब पोजीशन बदलना चाहती थी उसने कर्ण का लंड अपनी गांड में ले लिया और राज से बोला अब तुम मेरी चूत मारो | निशु मुझसे बोली कि जानू आप एक पैग और बनाओ और हम सब को पिलाओ. मैं उन सब के लिए पैग बनाने लगा और निशु राज और करण पर अपनी चुदाई करवाने लगी | निशु अब जोर-जोर से करहाने लगी थी और कहने लगी थी….. राज, करण मेरी चुदाई करो मुझे ऐसी चोदते रहो मेरी चूत और गांड को फाड़ डालो | राज बोला ठीक है भाभी जी हम आज आपकी चूत और गांड को फाड़ देंगे…. तो निशु बोली आज तुम अपनी भाभी को घोड़ी बनाकर चोदो, कुटिया बनाकर चोदो, अपनी रंडी बनाकर चोदो | अब दोनों निशु को बुरी तरह चोदना लगे…. उसकी चूची को दबाने लगे कभी उसके होठों पर किस करते कभी उसके बाल पकड़कर खींचते कभी उसकी गांड पर थप्पड़ मारते कभी उसकी जांघों की पिटाई करते. निशु सेक्स में पूरी तरह डूब चुकी थी उसकी वासना चरम पर थी और वह इस चुदाई को पूरी तरह से एंजॉय कर रही थी. मैंने तीनों को ले जाकर उनका पैक दे दिया और अपना पैक भी पी लिया | निशु ने मुझे खींच लिया और मेरा लंड अपने मुंह में ले लिया और फिर से चुदाई शुरू हो गई.

थोड़ी देर के बाद उसने कहा कि राज और करण मैं तुम्हारे लंड पर झूला झूलूंगी| करण ने खड़े होकर निशु को अपनी गोद में उठा लिया और उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया…. राज ने पीछे से आकर निशु की गांड में अपना लंड डाला और फिर उन्होंने निशु को अपने हाथों पर उठा लिया | निशु ने एक हाथ करण और एक हाथ राज के कंधे पर रख कर उछलना शुरू किया उठना शुरू किया और राज और करण के लंडो को अपनी चूत और गांड के अंदर बाहर करने लगी | करण मेरी मेरी माल जैसी बीवी की चूची को पकड़कर उसे ऊपर नीचे अपने और राज के लड्डू पर पटक रहा था …. करण और राज के लंडो की निशु की चूत और गांड में जाने की फच-फच की आवाज पूरे कमरे में गूंज रही थी

अब निशु करण और राज का निकलने वाला था और वह बहुत जोर-जोर से एक दूसरे की चुदाई कर रहे थे. निशु को इतना मजा आ रहा था कि उसका शरीर आकड़ा जा रहा था निशु ने बोला कि जिसका भी वीर्य निकलेगा वह मेरे चूत में निकालेगा क्योंकि एक बूंद वीर्य भी मेरे शरीर के बाहर नहीं गिरना चाहिए |

सबसे पहले राज ने निशु की चूत में जोर जोर धक्के मारने शुरू की और निशु ने भी उसकी गांड को पकड़कर जोर-जोर अपनी चूत में धक्के मरवाने शुरू किए.. और बोली और जोर जोर से मारो … मारो …अपने माल से मेरी चूत पूरी भर देना…… राज बोला …. साली कुत्तिया… मेरा सारा माल अपनी चूत के अंदर भर लो जितना भी है…

राज ने अपना वीर्य निशु की चूत में निकाल दिया . निशु की चूत राज के वीर्य से भर गई और फच फच की आवाज और जोरो जोरो से आने लगी. राज का गरम गरम वीर्य निशु ने अपनी चूत में महसूस किया और राज को खींचकर उसके होंठों को चूसने लगी. राज का गरम-गरम वीर्य अपनी चूत के अंदर महसूस करके निशु के चेहरे पर बड़ा सुकून आ रहा था |

अब करण की बारी थी निशु अपनी चूत को उठाकर करण की तरफ किया और बोली कि तुम भी अपना वीर्य मेरी चूत में निकालो यह तुम्हारा इंतजार कर रही है

अब करण ने अपना लंड निशु की चूत में डाल दिया जिसमें पहले से ही वीर्य भरा हुआ था और करण जोर जोर से धक्के मारने लगा. निशु भी करण की गांड को पकड़कर और जोर से अपनी चूत में धक्के लगाने लगी…. पूरे कमरे में आ… ओ….और चुदाई करो मुझे मारो मेरी चूत… की आवाज गूंजने लगी…

जब कर्ण का मोटा तगड़ा लंड निशु की चूत में अंदर बाहर हो रहा था तो निशु के करहाने की आवाजों और निशु की चूत की फच-फच की आवाजों से कमरे में मादक माहौल बन गया था. निशु ने करण से कहा कि जितना जोर जोर से मार सकते हो मेरी चूत में धक्के मारो….. मेरी चूत को फाड़ डालो…. तुम्हारा लंड बहुत सेक्सी है| यह सुनकर करण ने निशु की चूत में बहुत जोर जोर से धक्के मारने शुरू किया और यह आवाज एक कमरे से बाहर तक जाने लगी ….

तभी निशु और करण, दोनों का एक साथ निकलने लगा… अब निशु से कंट्रोल नहीं हो रहा था और निशु चिल्लाने लगी… जोर से करो और जोर से मुझे चोदो…… मार दो मेरी चूत….. फाड़ दो मैं तुम्हारे लंड की प्यासी हूं मेरी चूत को फाड़ डालो मेरी गांड को फाड़ डालो……. मेरे घोड़े मैं तेरी घोड़ी हूं…. मेरी सवारी कर…. मुझे मुझे जन्नत की सैर करा…. और मेरी चूत को फाड़ डाल…. ऐसी चुदाई तो मैंने कभी भी नहीं की…

करण बोला साली कुत्तिया तेरे जैसी सेक्सी और माल औरत को तो कोई कैसे छोड़ दे… तेरे जैसी औरत मिल जाए तो साली हर छेद में जी भर के चुदाई करें बिना कोई नहीं छोड़ सकता …
आज मेरे लंड से तू जी भर के मजा ले ले… अंदर तक महसूस कर…….मेरे लंबे मोटे लंड से तेरी चूत को अंदर तक फाड़ डालूंगा मेरी कुत्तिया … और चुद अपने कुत्ते से साली …. तेरी चूत को फाड़ डालूंगाआज …… और यह कहते-कहते दोनों का निकलने लगा |

करण ने अपना सारा वीर्य निशु की चूत में निकाल दिया… निशु ने करण को कसकर पकड़ लिया और अपनी आंखें बंद करके करण के वीर्य को अपनी चूत के अंदर महसूस करने लगी… निशु ने करण के होठों पर किस करना शुरू कर दिया | उसके बाद वह मेरे पास आई और मेरे लंड को जोर-जोर से चूसने लगी… मैं निशु की जबरदस्त चुदाई देखकर पहले से ही बहुत एक्साइटेड था और उसके जोर जोर से चूसने से निकलने लगा. मेरा सारा वीर्य निशु ने अपने मुंह में पी लिया |

यह हम दोनों की सेक्स लाइफ का सबसे जबरदस्त अनुभव था हमने इससे ज्यादा एंजॉय कभी नहीं किया था | मैं यह देखकर बहुत खुश था कि निशु सेक्स के दौरान जन्नत के मजे ले रही थी क्योंकि सामूहिक संभोग का मजा पति पत्नी के सेक्स में नहीं आ पाता है क्योंकि वहां पर इतने सारे जवान मर्द आप को एक साथ मजा नहीं दे पाते हैं | मैं निशु के इस तरह खुलकर और पूरी तरह बेशर्म होकर अपनी चुदाई करवाने को बहुत ज्यादा एंजॉय किया. मैंने उसको इससे ज्यादा खुलकर चुदते हुए कभी नहीं देखा था|

Comments